राजनीति

भाजपा के कहने पर हुआ तारीखों का ऐलान

Mamata Banerjee Conducting Assembly In Eight Phases In West Bengal

बंगाल में आठ चरणों में चुनाव

भारतीय चुनाव आयोग ने पांच राज्यों में चुनाव का ऐलान कर दिया है| इसके बाद कई लोगों के कमेन्ट आने शुरू हो गए हैं| पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शुक्रवार की शाम इस पर सवाल उठाए| उनका कहना है कि बंगाल में आठ चरणों में चुनाव भाजपा के कहने पर करवाए जा रहे हैं| बनर्जी ने कहा कि चुनाव आयोग ने वही किया जो भाजपा ने कहा|

ममता बनर्जी ने कहा कि जब तीन राज्यो में एक चरण में और असम में तीन चरणों में चुनाव कराया जा रहा है तो बंगाल में आठ चरणों में चुनाव कराने का फैसला क्यों लिया गया| उन्होंने कहा कि एक ही जिले में दो-तीन चरणों में चुनाव क्यों कराए जा रहे हैं, यह भाजपा ने जानबूझ कर करवाया है| ममता बनर्जी ने कहा कि केंद्रीय गृह मंत्री अपनी ताकत का गलत इस्तेमाल कर रहे हैं| लेकिन, भाजपा को बंगाल की जनता जवाब देगी| उन्होंने कहा कि खेल जारी है, हम खेलेंगे और जीतेंगे|

बंगाल में कुछ ऐसा है चुनाव का कार्यक्रम पश्चिम बंगाल में आठ चरणों में विधानसभा चुनाव संपन्न होगा| पिछले विधानसभा में सात चरण थे| पहले चरण का मतदान 27 मार्च को पांच जिलों की 30 विधानसभा सीटों पर होगा| दूसरे चरण का मतदान एक अप्रैल को चार जिलों की 30 विधानसभा सीटों पर होगा| तीसरे चरण का चुनाव छह अप्रैल को 31 विधानसभा सीटों पर होगा| चौथे चरण का मतदान 10 अप्रैल को 44 विधानसभा सीटों पर होगा| पांचवें चरण का मतदान 17 अप्रैल को 44 विधानसभा सीटों पर होगा| छठे चरण में 22 अप्रैल को 43 विधानसभा सीटों पर चुनाव होगा| सातवें चरण में 26 अप्रैल को 36 विधानसभा सीटों पर और अंतिम व आठवें चरण में 29 अप्रैल को 35 विधानसभा सीटों पर चुनाव होगा